तौरात-कुरान से संकेत

तौरात बरकतों और ला’नतों के साथ ख़त्म होता है

हम ने अपने आख़री बयान में मे’यारों को देखा जो अल्लाह ने दिए ताकि हम सच्चे नबियों को पेह चान सकें कि वह अपने पैग़ाम… Read More »तौरात बरकतों और ला’नतों के साथ ख़त्म होता है

तौरात के नबी की निशानी

हज़रत मूसा (अलैहिस्सलाम) और हज़रत हारून (अलैहिस्सलाम) ने 40 साल तक बनी इस्राईल की रहनुमाई की ।  उन्हों ने अहकाम लिखे और क़ुर्बानियां अंजाम दीं… Read More »तौरात के नबी की निशानी

हज़रत ए मूसा का निशान 2 शरीअत

हज़रत मूसा के पहले निशान में हम ने देखा ।  फ़सह – जिसमें अल्लाह ने तमाम पह्लोठे बेटों को मरने का हुक्म जारी किया था… Read More »हज़रत ए मूसा का निशान 2 शरीअत

इब्राहीम का निशान 3 : क़ुरबानी

पिछली निशानी में बड़े पैग़म्बर इब्राहीम (अलैहिस्सलाम) को एक बेटे का वायदा किया गया था। और अल्लाह ने अपने वायदे को क़ाइम रखा। दरअसल तौरात… Read More »इब्राहीम का निशान 3 : क़ुरबानी

इब्राहीम की 1 निशानी : बरकत

इब्राहीम! उसे अब्रहाम और अब्राम (अलै.) के नाम से भी जाना जाता है। वाहिद ख़ुदा पर ईमान रखने वाले तमाम तीनों मज़ाहिब यहूदियत, मसीहियत और… Read More »इब्राहीम की 1 निशानी : बरकत